अलविदा “बुलेट” तुम बहुत जल्दी चल दिये भाई!

0
384

अलविदा “बुलेट” तुम बहुत जल्दी चल दिये भाई!
जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

आज से छः साल पहले 2014 की बात है,हमने “जागो उत्तराखण्ड” नाम से साप्ताहिक अख़बार की बुनियाद रखी, उद्घाटन अवसर पर हमने “ग्रेट गढ़वाल क्रिकेट टूर्नामेंट” का पौड़ी के कंडोलिया ग्राउण्ड में आयोजन किया,जिसमें प्रख्यात लोकगायक किशन महिपाल ने अपना लोकप्रिय गाना “घुघूती..” गाया,उनके साथ ही अंकुश सकलानी ने अपनी नृत्य और एक नौजवान रैपर मिलिंद रुवाड़ी उर्फ़ “बुलेट” ने भी अपनी प्रस्तुति दी,इस छोटी सी प्रस्तुति में ही “बुलेट” अपनी छवि सबके दिलों में अंकित कर गया,उसका खुशमिजाज और मिलनसार व्यक्तित्व सभी को भा गया और “बुलेट” ने कई युवाओं को अपना दोस्त भी बना लिया,मिलिन्द गुप्तकाशी के निकट देवली भानिग्राम से था,बुलेट ने उत्तराखंड गॉट टैलेंट में भी प्रतिभाग किया था और एक न्यूज़ पोर्टल के लिये भी काम किया,सुनने में आया तीन दिन पूर्व किसी बाइक हादसे में उसे कुछ यूं आघात हुआ कि वह दो दिन आईसीयू में जिंदगी से जूझता रहा,लेकिन आख़िरकार मौत ज़िन्दगी पर भारी पड़ी और मिलिंद उर्फ़ “बुलेट” हमें हमेशा के लिये छोड़ चल दिया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY