अपने जिले से बाहर फँसे उत्तराखंडियों और महीना भर से क्वारंटाइन मुस्लिम भाइयों की सीएम लें सुध:आज़ाद अली

0
80

अपने जिले से बाहर फँसे उत्तराखंडियों और महीना भर से क्वारंटाइन मुस्लिम भाइयों की सीएम लें सुध:आज़ाद अली

जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

उत्तराखण्ड प्रदेश काँग्रेस कमेटी के विशेष आमन्त्रित सदस्य आज़ाद अली ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर रमज़ान के दौरान भी परेशानियों में घिरे मुस्लिम समुदाय की तरफ़ से अनुरोध किया है कि उत्तराखण्ड का मुस्लिम समाज सरकार और प्रशासन के निर्देशों के अनुसार सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करते हुए किसी भी मस्जिद में तय लोगो से अधिक लोगो द्वारा नमाज़ अदा नहीं कर रहा है,उन्होंने सीएम से गुज़ारिश की है कि हालाँकि मस्जिदों से अज़ान को लेकर कुछ प्रतिबंध सामने आये थे,लेकिन समाज के सुलझे हुये लोगों और प्रशासन के तालमेल से माइक द्वारा धीमी आवाज़ पर अज़ान की अनुमति मिल गयी है,परन्तु अभी भी कुछ इलाकों जैसे देहरादून के हरबर्टपुर,थाना विकासनगर व आज़ाद नगर रुड़की,थाना गंगनहर जिला हरिद्वार आदि कई जगहों पर असामाजिक तत्वों द्वारा अज़ान को लेकर अभी भी परेशानियां खड़ी की जा रही है व आज़ाद नगर रुड़की में मस्जिद के इमाम व अन्य तीन लोगों के खिलाफ  मुकदमे भी दर्ज हुये हैं,उन्होंने मस्ज़िद के सीसीटीवी के आधार पर पंजीकृत हुये मुकदमे की सत्यता पर जांच कर आवश्यक कार्यवाही की माँग की है,उन्होंने मुख्यमन्त्री से यह भी अनुरोध किया है कि सरकार के निर्देशानुसार जिन भी लोगों को क्वारंटाइन सेंटर्स में रखा गया है, उनको चौदह दिन के बाद डॉक्टरों से स्वस्थ होने की पुष्टि के बाद घर भेजा जाना था ,परंतु अभी भी खासतौर से जमात के लोगों को घर पर क्वारंटाइन किया गया है, उन्हें क्वारंटाइन सेंटर को मिलाकर तीस से अधिक दिन क्वारंटाइन सेंटर्स में हो गये हैं, परंतु अभी तक उनके घर वापस जाने की कोई भी स्थिति साफ नहीं है,जबकि जो लोग डॉक्टरों की जांच में पूर्ण तरह से स्वस्थ है, उन्हें उनके घर भेज दिया जाना चाहिये,उन्होंने सीएम से राज्य के अलग अलग जिलों में रिश्तेदारों के पास फंसे हुये लोगों समेत मानवता को देखते हुए बाहरी राज्यों के मजदूर व अन्य फंसे हुए व्यक्तियों को भी उनके राज्य भेजने के लिए पास जारी कर राहत देने की भी माँग की है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY