Inauguration of severage plant courtesy Parmarth Niketan by CM in Rishikesh…

0
173

ऋषिकेश स्थित चंद्रेश्वर घाट में परमार्थ निकेतन के सौजन्य से निर्मित सीवरेज ड्रेन री- मीडिएशन प्रोजेक्ट का उद्घाटन…
अरुण नेगी,जागो उत्तराखण्ड,टिहरी गढ़वाल

बीते रोज 20 जून 2018 को प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ऋषिकेश स्थित चंद्रेश्वर घाट मैं परमार्थ निकेतन के सौजन्य से निर्मित सीवरेज ड्रेन री- मीडिएशन प्रोजेक्ट का उद्घाटन करते हुए कहा कि गंगा को स्वच्छ बनाने में आम जनता का सहयोग भी बहुत आवश्यक है, उन्होंने कहा कि सरकार 2020 तक हर नाले वह नदियों को स्वच्छ बनाने के लिए प्रतिबद्ध है उन्होंने कहा कि परमार्थ निकेतन द्वारा सीवरेज के पानी को स्वच्छ बनाने के लिए उपयोग की जा रही हालैंड से आयातित यह तकनीक कम खर्च पर पानी को स्वच्छ बनाने में सक्षम है उन्होंने बताया कि इस तकनीक का उपयोग प्रायोगिक तौर पर चंद्रभागा नदी के माध्यम से गंगा नदी में मिलने वाले सीवरेज को साफ करने में किया जाएगा यह तकनीक कारगर साबित होने पर इसे गंगा नदी से जुड़े अन्य सीवरों में भी स्थापित किया जाएगा उन्होंने बताया कि 2020 तक जिन सीवर को पार करने में बदबू के कारण लोगों को परेशानी होती थी अब वे उन स्थानों पर सेल्फी खिंचवा सकेंगे उन्होंने कहा कि गोमुख से समुद्र तट पर 2500 किलोमीटर लंबी विश्व प्रसिद्ध नदी गंगा को स्वच्छ बनाने में आमजन के साथ अन्य संस्थाओं को भी आगे आना होगा ताकि गंगा नदी को यूरोप की रायन नदी के तर्ज पर स्वच्छ व साफ रखा जा सके, उन्होंने कहा कि ऋषिकेश विश्व योग की राजधानी के रूप में स्थापित हुआ है जो कि हमारे राज्य व देश के लिए गौरव की बात है विश्व प्रसिद्धि रखने वाले इस सुंदर शहर को स्वच्छ रखना हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी है जिसमें विभिन्न NGO व संस्थाओं का सहयोगी अपेक्षित है, उन्होंने कहा कि गंगा को स्वच्छ रखने के लिए गंगा में मिलने वाले और नालों की सफाई से संबंधित जुड़े अधिकारियों के साथ कार्य प्रगति की समीक्षा की जाएगी, इस अवसर पर स्वामी चिदानंद जी महाराज ने कहा कि गंगा इस देश की धरोहर है इस को स्वच्छ रखना हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी है इस हेतु आश्रमों से ज्यादा गंदे नालों को संवारने की आवश्यकता है इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद्र अग्रवाल, परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानंद जी महाराज, मुख्य सचिव उत्तराखंड शासन उत्पल कुमार, डायरेक्टर जनरल नमामि गंगे राजीव रंजन, सचिव अरविंद हयांकी, के अलावा अन्य अधिकारी एवं जनता उपस्थिति थी ।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY